Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम
08-16-2019, 12:18 PM,
#41
RE: Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम
कोमल- एक दम से खड़ी होकर, आपको शर्म नही आती क्या आप रश्मि के साथ भी ऐसी ही बाते करते है

राज - अपने मोटे लंड को कोमल की आँखो के सामने सहलाता हुआ, मेरी रानी तुम रश्मि की बात करती हो मेरा मोटा लंड तो इतना खड़ा होता है कि में रश्मि क्या अपनी मम्मी को भी पूरी नंगी करके चोद सकता हूँ, वैसे भी मेरी मम्मी की मोटी गान्ड देख-देख कर मेरा लंड बहुत खड़ा होता है, तो फिर तुम्हारी मस्तानी गान्ड को चोदने का क्यो ना सोचु

कोमल- की चूत तो पहले से ही गरम थी और राज की बाते सुन कर और भी पानी चोदने लगी थी, लेकिन वह नाटक चोदते हुए,

भैया आपने मुझे क्या ऐसी वैसी लड़की समझ लिया है में आपकी इस हरकत के बारे में रश्मि से कहूँगी

राज - खड़ा होकर जाकर दरवाजा लगा देता है और मेरी रानी तुम्हे रश्मि से जो कहना हो पूरी डीटेल में कह देना पहले अपने भैया का मोटा लंड तो देख लो और फिर राज अपने पाजामे और अंडरवेर को एक साथ उतार कर पूरा नंगा हो जाता है और कोमल एक पल के लिए राज का मोटा लंड देख कर सिहर जाती है और फिर अपना मुँह दूसरी ओर करते हुए, भैया मुझे आपकी हरकत देख कर आप पर घिन आती है आप इतने गिर जाओगे मेने कभी सोचा भी नही था

राज - कोमल के पास पहुच जाता है और कोमल का मुँह दूसरी ओर रहता है राज एक दम से कोमल से चिपक जाता है और उसके दोनो मोटे-मोटे दूध को कस कर अपने हाथो से दबोचने लगता है

कोमल- कसमसाते हुए भैया प्लीज़ मुझे छोड़ दो, में ऐसी लड़की नही हूँ, राज उसे एक दम से छोड़ देता है और कोमल एक दम से उसे देखने लगती है और फिर उसकी नज़र अचानक राज के खड़े मोटे लंड पर पड़ती है और वह फिर से अपना चेहरा दूसरी ओर घूमाते हुए, भैया प्लीज़ मुझे यहाँ से जाने दो और अपने कपड़े पहन लो

राज - ठीक है चली जाओ पर में भी सब से यह बता दूँगा कि तुम अपने पापा का मोटा लंड अपनी चूत में लेना चाहती हो

राज की बात सुन कर कोमल के होश उड़ जाते है और वह अपना मुँह फाडे हुए राज को देखने लगती है

राज - अब जाओ यहाँ से खड़ी क्यो हो, में भी यह बात सब से पहले अपनी मम्मी और फिर तुम्हारी मम्मी को भी बता देता हूँ कि आंटी अब अपने पति के साथ अपनी बेटी को पूरी नंगी करके सुलाया करो यह तो अपने पापा के मोटे लंड की दीवानी हो चुकी है और क्या पता उनका मोटा लंड अपनी चूत में भी ले चुकी हो

राज की बात सुन कर कोमल सोफे पर बैठ जाती है और अपने मुँह को अपने हाथो से छुपा कर, कुछ देर चुपचाप बैठी रहती है, राज पूरा नंगा उसके पास सोफे पर बैठ जाता है और

राज - अब क्यो नज़रे चुरा रही हो तुम्हे जाना है ना तो जाओ

कोमल- अपने चेहरे से हाथ हटाकर प्लीज़ भैया मुझे माफ़ कर दो, में वह सब नही चाहती थी वह तो में पता नही कैसे बहक गई और फिर रश्मि ने भी मेरे साथ गद्दारी की है जो मेरी बाते आपको सुना दी

राज - अपने मोटे लंड को मसलता हुआ, में कुछ नही जानता कोमल या तो तुम यहाँ से चली जाओ बाकी जो मुझे ठीक लगेगा में करूँगा या फिर चुपचाप खड़ी होकर अभी मेरे सामने पूरी नंगी हो जाओ

कोमल- अपना हाथ जोड़ कर प्लीज़ भैया ऐसा मत करो

राज - तुम नंगी होती हो की नही

कोमल- अपना सर नीचे झुका कर ठीक है आपको जो करना है कर लो

राज - कोमल के पास सरक कर उसके मोटे-मोटे दूध को अपने हाथो में भर कर खूब कस-कस कर दबाता हुआ उसके रसीले होंठो को चूमने लगता है और कोमल तड़प जाती है राज उसके दूध को उसकी टीशर्ट के अंदर से हाथ डाल कर जब पकड़ता है तो उसकी कसावट और गदराए पन को महसूस करके कोमल को अपने सीने से चिपका कर उसके रस भरे होंठो को चूसने लगता है, कोमल भी राज के सीने से चिपक जाती है और उसके हाथ एक दम से राज के खड़े लंड से टकरा जाता है और राज उसके हाथ को पकड़ कर अपने लंड पर रख लेता है और कोमल उसके मोटे लंड को अपने हाथो से दबोचने लगती है,

राज - बोलो अपने भैया से अपनी फूली हुई चूत फडवाओगी

कोमल- राज का मोटा लंड सहलाते हुए हाँ भैया आज अपनी बहन को खूब कस-कस कर चोद दो

राज कोमल को खड़ी करके उसकी जीन्स को उतार देता है और कोमल पूरी नंगी हो जाती है राज उसे वही सोफे पर पीठ के बल टिका कर उसकी मोटी जाँघो को खूब कस कर फेला देता है और फिर कोमल की फूली हुई चूत को अपने होंठो से कस-कस कर चाटने लगता है और कोमल सीसीयाने लगती है, राज उसकी चूत को अपने दोनो हाथो से फैला कर उसके गुलाबी रस से भरे हुए छेद में अपनी जीभ भरने लगता है, कोमल आह आह करी हुई अपनी मोटी गान्ड को हिलाते हुए अपनी फूली हुई चूत को उसके मुँह पर मारने लगती है, राज कोमल के उपर उल्टा हो कर लेट जाता है और कोमल जल्दी से राज के मोटे लंड को पकड़ कर अपने मुँह में भर लेती है और राज उसकी फूली हुई फांको को फैला कर उसकी चूत को चाटने लगता है दोनो जब एक दूसरे की चूत और लंड को एक साथ चाटते है तो दोनो एक दूसरे की गान्ड को कस कर दबोचते हुए एक दूसरे की चूत और लंड को कस-कस कर पीने लगते है और एक दूसरे को खूब कस कर दबोच लेते है.

दोनो पूरी तरह उत्तेजित होकर एक दूसरे की चूत और लंड को पीने लगते है और कोमल के मोटे-मोटे चूतड़ ऐसे उपर की और उछलने लगते है जैसे उसकी गान्ड के नीचे काँटे लगे हो राज लगातार उसके रस को खूब कस-कस कर चूस्ता हुआ उसकी चूत को झडा देता है और कोमल भी राज के मोटे लंड को खूब कस-कस कर चूस्ते हुए उसका पानी पीने लगती है और दोनो एक दूसरे की जाँघो को दबोचे हुए एक दूसरे की चूत और लंड का रस खींच-खींच कर पीने लगते है, और फिर दोनो गहरी साँसे लेते हुए एक दूसरे के उपर चिपक कर लेट जाते है, लगभग दो मिनट तक इसी तरह पड़े रहने के बाद राज कोमल को खड़ी करके उसकी मोटी गान्ड को फैला कर उसकी गान्ड के छेद को चाटने लगता है और कोमल अपने दोनो घुटनो को सोफे से टिका कर अपने हाथो से सोफे को पकड़ कर अपने भारी-भारी चुतड़ों को राज के मुँह की ओर फैला देती है और राज उसकी मोटी गान्ड की गहराई में अपनी जीभ डाल-डाल कर उसकी गुदा को चाटने लगता है, राज कोमल की गान्ड और चूत दोनो को अपनी जीभ निकाल-निकाल कर चाटने लगता है और कोमल की चूत फिर से खूब गीली हो जाती है,

राज और कोमल दोनो नंगे खड़े होकर एक दूसरे से चिपक जाते है और राज कोमल को अपनी गोद में बैठा कर उसके दूध की मसल्ते हुए मेरी रानी बहुत कसे हुए और मोटे दूध है तुम्हारे

कोमल- राज का लंड सहलाने लगती है और राज कोमल की चूत की फूली हुई फांको को अलग-अलग करके उसकी चूत में अपनी एक उंगली उतार देता है और कोमल राज के होंठो को चूमती हुई

कोमल- ओह भैया बहुत अच्छा लग रहा है, आह भैया कुछ बोलो ना भैया, मुझसे गदी-गंदी बाते करो भैया मुझे गंदी बाते करना बहुत अच्छा लगता है प्लीज़ कुछ बोलो ना और राज उसकी बात सुन कर अपनी उंगली को पूरी कोमल की चूत में भर कर सहलाते हुए, क्या सुनना चाहती है मेरी प्यारी बहना

राज - क्या तुझे तेरे पापा का मोटा लंड बहुत अच्छा लगता है

कोमल- हाँ भैया में अपने पापा के मोटे लंड से खूब कस-कस कर चुदना चाहती हूँ, में अपने पापा के साथ पूरी नंगी होकर सोना चाहती हूँ, मेरे पापा मेरी मम्मी को खूब कस-कस कर अपनी गोद में उठा-उठा कर चोदते है में भी अपने पापा के मोटे लंड पर चढ़-चढ़ कर चुदना चाहती हूँ भैया, आप भी कुछ बताओ ना भैया आपको किसकी फूली हुई चूत और मोटी गान्ड अच्छी लगती है आप किसकी पूरी नंगी करके चोदना चाहते हो

राज - कोमल के दूध को एक हाथ से मसलते हुए दूसरे हाथ की उंगली से उसकी फूली हुई चूत को सहलाते हुए, कोमल में तो सबसे ज़्यादा अपनी मम्मी को चोदना चाहता हूँ

कोमल- क्या आपको अपनी मम्मी सबसे अच्छी लगती है

राज - हाँ कोमल में अपनी मम्मी को पूरी नंगी करके उसे रात भर अपने साथ नंगी सुलाना चाहता हूँ, उसकी गदराई गान्ड दिन भर देख-देख कर मेरा लंड खड़ा ही रहता है

कोमल- पर भैया आपकी मम्मी तो बहुत मोटी और भारी है

राज - कोमल के दूध को कस कर दबाता हुआ, हाँ कोमल पर मुझे ऐसी भारी और मोटी गान्ड ही पसंद है मेरी मम्मी पूरी नंगी होकर जब मुझसे चिपकेगी तो मज़ा आ जाएगा

कोमल- आपकी मम्मी की चूत भी बहुत बड़ी और खूब फूली हुई होगी ना

राज - हाँ कोमल मम्मी की चूत खूब गदराई हुई है जब मेरा मोटा लंड मेरी मम्मी की चूत में घुसेगा तो मज़ा आ जाएगा, में अपनी मम्मी की फूली हुई चूत को खूब पीना चाहता हूँ और उसकी मोटी गान्ड में अपना मुँह भर देना चाहता हूँ

कोमल- भैया मेरी चूत में अपना मोटा लंड डाल कर बात करो ना, राज कोमल की बात सुन कर उसे सोफे पर अच्छे से पैर फैला कर लेटा देता है और अपने लंड पर ढेर सारा थूक लगा कर कोमल की चूत में अपने लंड का निशाना लगा कर कस कर एक तगड़ा धक्का मारता है और उसका मोटा लंड कोमल की चूत को फाड़ता हुआ उसकी चूत में आधे से ज़्यादा धँस जाता है और कोमल एक ज़ोर दार चीख मारती हुई राज को अपने उपर से धकेलने लगती है राज अपने हाथो से कोमल की मोटी जाँघो को पकड़ कर अपने लंड को थोड़ा बाहर खिचता है और एक दम से दूसरा तगड़ा धक्का उसकी चूत में मार देता है और कोमल तड़प कर रह जाती है , राज उसके मोटे-मोटे दूध के गुलाबी निप्पल को अपने मुँह में भर कर पीने लगता है और कोमल उसकी पीठ में हाथ फेरने लगती है और राज धीरे-धीरे अपनी कमर हिलाने लगता है करीब 10 मिनट बाद कोमल अपनी चूत को धीरे-धीरे राज के मोटे लंड पर मारने लगती है और राज उसके रसीले होंठो को चूस्ता हुआ उसकी गान्ड को अपने हाथो से कस कर दबाते हुए उसे चोदने लगता है,
-  - 
Reply
08-16-2019, 12:18 PM,
#42
RE: Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम
कोमल- आह, आह भैया खूब कस-कस कर चोदो अपनी बहन को खूब चोदो भैया यू समझ लो भैया तुम कोमल को नही अपनी मम्मी को चोद रहे हो खूब चोदो अपनी मम्मी की फूली हुई चूत को

राज - कोमल मेरे मोटे लंड को अपने पापा का लंड समझ कर अपनी चूत मरवाओ सोचो कि तेरे पापा तेरी फूली हुई चूत में अपने मोटे लंड को फसा रहे है, और तुझे पूरी नंगी करके खूब कस-कस कर अपने मोटे लंड से अपनी बेटी को चोद रहे है,

कोमल- आह पापा आह पापा खूब चोदो अपनी बेटी की कसी हुई चूत को फाड़ दो पापा अपने मोटे लंड से, राज और कोमल पागलो की तरह एक दूसरे को चूमते हुए चुदाई में लगे हुए थे राज सतसट अपने मोटे लंड को कोमल की चूत में पेल रहा था और कोमल खूब सीसियाते हुए अपनी चूत राज के मोटे लंड से मरवा रही थी, लगभग आधे घंटे तक राज ने कोमल को खूब कस-कस कर रगड़-रगड़ कर चोदा और फिर दोनो एक दूसरे को चूमते हुए झाड़ कर एक दूसरे से चिपक गये,

इधर कोमल के घर.............
रवि- मालती की फूली हुई चूत को अपने हाथो से मसलता हुआ उसके होंठ को चूम कर मेरी रानी क्या बात है आज बहुत चुदासी दिख रही हो

मालती- पहले यह बताओ कोमल के साथ रूम में अंदर से दरवाजा क्यो लगा रखा था, क्या कर रहे थे दोनो बाप बेटी

रवि- मालती की गदराई मोटी गान्ड को फैला कर अपने हाथो से सहलाता हुआ, मेरी रानी तुम तो ऐसे मुझ पर शक कर रही हो जैसे में अपनी ही बेटी के साथ नंगा सो रहा था

मालती- ज़्यादा बनने की कोशिश मत करो तुम इतने चोदु किस्म के इंसान हो कि तुम्हारा कोई भरोसा नही है

रवि- अरे तुम भी क्या पागलो जैसी बात कर रही हो कोमल तो अभी बच्ची है और फिर में क्या तुम्हे इतना कमीना लगता हूँ कि अपनी बेटी के साथ कुछ करूँगा

मल्टी- काहे की बच्ची है तुम्हारी बेटी, कभी उसे नंगी देख लेते तो अपनी बेटी पर ही चढ़ने का सोचने लग जाते, अच्छी ख़ासी तो जवान हो गई है अभी शादी कर दो तो बच्चा पैदा हो जाए और तुम्हे वह बच्ची नज़र आती है

रवि- मालती की फूली हुई चूत को अपने हाथो से दबोचते हुए, हाँ यह तो तुम सच कह रही हो बिल्कुल तुम पर गई है

मालती- अरे मुझ पर क्या गई है उसे तो मुझ से भी बड़ी ब्रा और पेंटी लगती है फिर भी इतनी छोटी सी पेंटी पहनती है

रवि- अपनी बीबी के हाथ में अपना मोटा लंड देते हुए डार्लिंग इसे थोड़ा कस-कस कर दबाते हुए बात करो ना

मालती- मालती पूरी गीली हो रही थी और अपने पति का लंड दबोचते हुए क्यो जवान कसी हुई चूत की बात करते हुए तुम्हारा मोटा लंड मसलती हूँ तो कुछ ज़्यादा ही बड़ा हो जाता है, पर आज तो यह बहुत ज़्यादा मोटा हो रहा है, सच-सच बताओ किसकी मोटी गान्ड और चूत के बारे में सोच रहे हो

रवि- अरे मेरी जान में तो सिर्फ़ तुम्हारे गदराए बदन को दबोच-दबोच कर ही उत्तेजित हो रहा हूँ

मालती- उसका मोटा लंड मुठियाते हुए, तुम बहुत कमीने हो रवि तुमने मुझे सुहागरात के एक मंत के अंदर ही बता दिया था कि तुम अपनी मम्मी को छुप-छुप कर पूरी नंगी देख-देख कर मूठ मारते थे और तुम यह भी सोचते थे कि तुम अपनी मम्मी की गदराई मोटी गान्ड को अपने मोटे लंड से खूब कस-कस कर चोद रहे हो,

रवि- मालती की बुर में उंगली पेलता हुआ, मेरी रानी आख़िर तुम कहना क्या चाहती हो

मालती- उसके मोटे लंड को चूमते हुए आज तुम्हारा लंड बहुत दिनो बाद ऐसा खड़ा हुआ है जैसे कोई और चूत देख कर खड़ा होता है कही तुमने कोमल का गदराया बदन दबोच तो नही लिया या फिर तुमने ज़रूर कोमल को नंगी देखा है तभी तुम्हारा लंड ऐसे फनफना रहा है

रवि- अरे मेरी रानी क्या बात करती हो में क्या ऐसा कर सकता हूँ,

मालती- तो फिर रूम में अंदर से दरवाजा लगा कर क्या कर रहे थे

रवि- अरे कुछ नही तुम सोई हुई थी तो मेने सोचा कोमल के रूम में ही आराम कर लेता हूँ

मालती- क्यो मेरे साथ पीछे से चिपक कर सो जाते कोमल के रूम में क्यो गये कहीं कोमल के साथ चिपक कर तो नही सो रहे थे

रवि- अपनी बीबी की मोटी जाँघो को फैला कर एक झटके में अपना मोटा लंड उसकी फूली हुई चूत में उतार देता है और मालती आह करते हुए उसे अपने दूध से दबा लेती है,

रवि- अपनी बीबी की चूत मारते हुए क्यों क्या में अपनी बेटी को अपने सीने से लगा कर नही सुला सकता क्या

मालती अपनी चूत अपने पति के लंड पर मारती हुई, सुला सकते हो लेकिन वह अब पूरी गदराई जवान हो चुकी है अब यदि उसे अपने सीने से लगा कर उसके साथ सोओगे तो तुम्हारा मोटा लंड खड़ा हो जाएगा

रवि- मालती की बात सुन कर उसकी चूत को कस-कस कर चोदते हुए तो क्या हुआ अगर लंड खड़ा हो भी गया तो

मालती- अरे तुम उसके बाप हो कही अपनी बेटी की छूट ही मत मार देना वैसे भी जवान लोंदियो का बदन बहुत चिकना और कसा हुआ होता है उस पर तुम्हारे जैसा चोदु आदमी हो तो वह तो अपनी बेटी को भी नंगी करके उसकी फूली हुई चूत मार सकता है

रवि- मालती के मोटे-मोटे दूध को अपने हाथो से कस कर दबाता हुआ अपने मोटे लंड को अपनी बीबी की चूत में सतसट ठोकते हुए, क्यो कोमल क्या इतनी गदराई है कि में उसे नंगी करके चोद सकता हूँ

मालती- आह, आह क्यो तुमने क्या अपनी बेटी के बदन को सहला कर नही देखा है कि वह कितनी गदराई है

रवि- अरे मेने कहाँ कोमल का बदन सहलाया है जो मुझे पता होगा

मालती- अच्छा तो फिर जब में किचन में खाना बना रही थी तब कौन कोमल को अपनी गोद में बैठा कर उसकी मोटी जाँघो को दबाता हुआ उसके गालो को चूम रहा था

रवि- एक दम से चौुक्ते हुए. अरे अब क्या में अपनी बेटी को अपनी गोद में बैठा कर प्यार भी नही कर सकता

मालती- कर सकते हो पर अब उसके चूतड़ मुझसे भी ज़्यादा गदराए और भारी हो गये है अगर उसे अपनी गोद में बैठाओगे तो उसके मोटे-मोटे चुतड़ों के स्पर्ष्ह से तुम्हारा लोड्‍ा खड़ा हो जाएगा तब क्या करोगे


रवि- मालती की फूली हुई चूत को कस-कस कर चोदने लगता है और जब अपनी आँखे बंद करके मालती की चूत मारता है तो उसकी आँखो के सामने कोमल की गदराई गान्ड और फूली हुई चूत नज़र आ जाती है और वह मालती को अपनी बेटी सोच-सोच कर खूब कस-कस कर उसकी फूली हुई चूत चोदने लगता है

मालती- अपनी फूली हुई चूत को अपने पति के मोटे लंड पर मारती हुई क्या सोच रहे हो कहीं मन में अपनी बेटी की चूत तो नही चोद रहे हो तुम्हारा लंड बहुत मोटा हो गया है आज अलग ही जोश है तुम्हारे लोड्‍े में, आह, आह थोड़ा और कस-कस के मारो आह आह कहीं अपनी बीबी को अपनी बेटी समझ कर तो नही चोद रहे हो



रवि- उसके होंठ चूस्ता हुआ उसकी चूत को खूब कस-कस कर चोदने लगता है और मेरी रानी में अपने मन में किसी को भी नंगी करके चोदु पर मज़ा तो तुम्हारी फूली हुई चूत को ही दे रहा हूँ ना

मालती- आह आह चोदो और कस कर चोदो, रोज अपनी बेटी को नंगी सोच कर ही चोदा करो ना मुझे, जब तुम इस तारह से मुझे चोदते हो तो बहुत मज़ा आता है और चोदो खूब कस -कस कर मेरी मोटी गान्ड को दबोच-दबोच कर मेरी फूली हुई चूत में पूरा घुस जाओ आह आह


रवि- ले मेरी रानी क्या गदराई गान्ड है तेरी बहुत ही मोटी और मस्त है , मुझे औरतो की मोटी और गदराई गान्ड बहुत अच्छी लगती है ऐसा लगता है अपना मुँह भर दूं उनकी मोटी गान्ड की गहराई में

मालती- आह, आह औरतो की मोटी गान्ड अच्छी लगती है या अपनी बेटी की, तुम्हारी नज़रे आज कल कोमल के भारी-भारी चुतड़ों को बहुत देखने लगी है

रवि- अरे में तो यह देख रहा था कि उसके मोटे-मोटे चूतड़ बिल्कुल तुम पर गये है

मालती- क्या कोमल के चूतड़ मुझसे भी बड़े है

रवि- हाँ लेकिन उसकी जीन्स से एक दम साफ पता नही चलता कि तुमसे बड़े है या एक दम तुम्हारे बराबर

मालती- आह तो क्या अपनी बेटी को नंगी करके उसके नंगे चूतड़ देखने का मन करता है तुम्हारा

रवि - मालती की गान्ड के छेद में उंगली डाल कर उसकी चूत मारते हुए, अरे मेरे सामने नंगी भी हो जाएगी तो क्या हुआ मेरी बेटी ही तो है वह, और मेरे लिए तो बच्ची ही रहेगी

मालती- अपनी बेटी को बच्ची-बच्ची कहते हुए किसी दिन अपने लंड पर मत उठा लेना, वह तुम्हे बच्ची लगती है, अरे वह तो इतनी गदरा गई है कि तुम्हारे जैसा मोटा लंड भी आसानी से अपनी चूत में ले सकती है, मुझे तो लगता है वह चुदास के मामले में तुम पर ही गई है, वह भी आज कल तुमसे ज़्यादा ही चिपकने की कोशिश करती है कहीं तुमने उसे अपना मोटा लंड तो नही दिखा दिया

रवि- अरे पागल हो क्या में भला उसे अपना लंड क्यो दिखाउन्गा

मालती- आह और तेज थोड़ा अपने हाथ से मेरी गान्ड को अपने लंड की ओर दबा कर चोदो हाँ ऐसे ही और थोड़ा आह हाँ ऐसे ही खूब मज़ा आ रहा है खूब चोदो आह आह

रवि- इतना मोटा लंड क्या कोमल सह लेगी

मल्टी- आह आह, सह क्या लेगी उसका भोसड़ा देख लोगे तो अपनी बेटी पर ही पूरी नंगी करके चढ़ जाओगे, तुम्हारे जैसे मोटे लंड को तो वह अपने फूली हुई चूत में एक बार में ही भर लेगी, आह जल्दी-जल्दी और तेज मारो आह आह और रवि अपनी बीबी की फूली हुई चूत को सतसट चोदने लगता है और फिर मालती एक दम से अपने फूले हुए भोस्डे को उसके लंड से कस कर चिपका देती है और उसकी चूत पानी-पानी होकर रस छोड़ने लगती है, रवि भी अपनी बीबी की मस्तानी भोसड़ी से अपने लंड को कस कर चिपका देता है और धीरे-धीरे अपना पानी उसकी फूली हुई बुर की गहराई में छोड़ने लग जाता है और फिर दोनो एक दूसरे के उपर लेटे -लेटे गहरी साँसे लेने लगते है,

उधर राज के घर में .....................

कोमल- भैया अब छोड़ो ना तीन बार चोद चुके हो और कितना मेरी चूत मारोगे,

राज - कोमल तेरी चूत को चोदने का मन ही नही करता है पर अब टाइम भी बहुत हो गया है इसलिए अब तुम भी जाओ मम्मी और रश्मि कभी भी आ सकती है,

कोमल- भैया अब कब चोदोगे मुझे

राज - जब तुम कहोगी रानी

कोमल- भैया में फोन करके बता दूँगी पर प्लीज़ भैया यह बात रश्मि को मत बताना

राज – क्यों

कोमल- में नही चाहती कि हमारे रिश्तो के बीच कोई नई बात क्रियेट हो प्लीज़ भैया समझने की कोशिश करो

राज - अच्छा ठीक है नही बताउन्गा, पर क्या रश्मि ने तुझे मेरे बारे में कुछ बताया है

कोमल- मुस्कुराते हुए, वह में नही बता सकती

राज - बता ना कोमल अब तो हम दोनो एक दूसरे पर विश्वास कर सकते है ना

कोमल- भैया वह आपसे चुदना चाहती है पर बहुत दिनो से उसने आपकी कोई बात नही की

राज - उसने तुमसे कब कहा था कि वह मुझसे चुदना चाहती है

कोमल- आपके कश्मीर जाने के पहले

राज - अच्छा ठीक है रश्मि से तुम भी कोई बात नही करना

कोमल- ओके लेकिन आप भी ध्यान रखना

राज - ओके चल बाइ

कोमल- बाइ भैया

राज - अरे मम्मी इतनी जल्दी आ गई आप

रजनी- हाँ बेटे जल्दी ही केक काट गया और फिर पार्टी जल्दी ही ख़तम हो गई फिर भी आते-आते 7 बज गये, तुझे भूख लगी होगी में अभी खाना तैयार कर देती हूँ

रश्मि- मम्मी मुझे तो भूख नही है और में तो बहुत थक गई हूँ में जाकर भैया के रूम में सो जाउ

रजनी- ठीक है जा सो जा और फिर रजनी अपनी गदराई गान्ड मटकाती हुई किचन में चली जाती है और राज रश्मि के पीछे से जाकर उसे अपनी बाँहो में भर कर कस कर उसके मोटे-मोटे दूध दबाते हुए मेरी गुड़िया रानी कितनी हसीन लग रही है और इतनी जल्दी सोने चली थोड़ा अपने भैया को अपने रस भरे होंठो का रस तो पिला दे,

रश्मि- भैया मेरे होंठो का रस तो कई बार पी चुके हो आज मम्मी के होंठो का रस भी पी लो ना बेचारी बहुत तड़प रही है,
-  - 
Reply
08-16-2019, 12:18 PM,
#43
RE: Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम
राज - रश्मि के मोटे-मोटे दूध की मसलता हुआ क्यो तुझसे कुछ कह रही थी क्या

रश्मि- अरे कह तो कुछ नही रही थी लेकिन आज कल वह अपनी फूली हुई चूत को बहुत खुजलाने लगी है लगता है बार-बार पानी उसकी चूत में आ जाता है और यह सब तुम्हारे मोटे लंड को सोच कर होता होगा,

राज - क्या मेरा लंड इतना अच्छा लगता है मम्मी को

रश्मि- अपने भैया के लंड को पकड़ कर सहलाती हुई इतना मोटा और मस्त है की किसी को भी अच्छा लगेगा बस एक बार वह देख भर ले,

राज - रश्मि- के मोटे-मोटे चुतड़ों को दबाता हुआ, रश्मि मम्मी की मोटी गान्ड बहुत मस्त है जब मेने मम्मी के मोटे-मोटे गदराए हुए चुतड़ों को खूब कस कर फैला कर उसकी गान्ड का छेद चाटा था तो बहुत मज़ा आया था, मेने तो अपना पूरा मुँह उसकी गान्ड से कस कर चिपका दिया था, मम्मी अपनी मोटी गान्ड को उठाए हुए मेरे मुँह पर दबा रही थी

रश्मि- अपने भैया का मोटा लंड सहलाते हुए भैया जब इतना सब कुछ कर चुके थे तब आपने छोड़ा क्यो नही मम्मी को

राज - तूने ही तो कहा था कि आज बस मम्मी के गदराए बदन को सहलाना और दबाना मम्मी को चोदना मत तो मेने बस पूरी रात मम्मी की मोटी गान्ड और चूत को खूब दबोचा और सहलाया और अपने होंठो से खूब चूमा और चाटा

रश्मि- ठीक है तो अब आज की रात क्या इरादा है

राज - रश्मि प्राब्लम यह है कि में मम्मी को कैसे कहूँ की में उसे चोदना चाहता हूँ

रश्मि- अरे भैया इसमे कहने की ज़रूरत ही कहाँ है बस रत को मम्मी से कस कर चिपकते हुए उसके गालो और होंठो को उसके सामने ही चूमने लगना, वह कुछ नही कहेगी और मुस्कुराते हुए आपको अपने सीने से लगा लेगी फिर आप धीरे-धीरे मम्मी की मोटी गान्ड की सहलाते हुए धीरे-धीरे दबोचने लगना, जब आप मम्मी की मोटी गान्ड की गुदा को दबा-दबा कर उसके रसीले होंठो को पियोगे तो उसे बहुत मज़ा आएगा,

राज - अच्छा तू बताना तुझे मज़ा आता है कि नही और राज रश्मि की मोटी गान्ड की गुदा को अपनी उंगली से दबा-दबा कर सहलाता हुआ उसके रसीले होंठो को पीने लगता है

रश्मि- भैया ऐसे नही पेंटी के अंदर हाथ डाल कर पूरी गुदा को अपने हाथो में भर कर मेरी मोटी और गदराई गान्ड को दबोचते हुए मेरे होंठो को पियो तब ज़्यादा मज़ा आएगा उसकी बात सुन कर राज रश्मि की गदराई गान्ड की गुदा को अपने हाथो में भर कर कस कर उसकी गुदा को मसलते हुए उसके रसीले होंठो को पीने लगता है और रश्मि कस कर उससे चिपक जाती है,

राज - रश्मि की गुदा को सहलाता हुआ, रश्मि आगे भी तो बता फिर क्या करुन्गऱश्मि- अरे फिर धीरे से मम्मी के दूध दबाने लगना और फिर मम्मी के उठे हुए पेट को सहलाने लगना और फिर अचानक मम्मी की फूली हुई चूत को कस कर अपनी मुट्ठी में भर कर दबोच लेना फिर क्या है मम्मी खुद आपसे कस कर चिपक जाएगी और फिर आप उसके उपर सीधे लेट कर उसके होंठो को पीते हुए उसके मॉट-मोटे दूध, गान्ड और फूली हुई चूत को सहलाने लगना और फिर अपना मोटा लंड अपनी मम्मी की फूली हुई चूत में एक ही धक्के में पूरा जड़ तक फसा देना और फिर मम्मी को रात भर पूरी नंगी करके चोदना

राज - रश्मि आज में ज़रूर मम्मी को पूरी नंगी करके खूब कस-कस कर चोदुन्गा

रश्मि- और राज एक दूसरे के लंड और चूत को सहलाते हुए एक दूसरे के होंठो का रस पीते रहते है उधर रजनी किचन में काम करते हुए राज के मोटे लंड को सोच-सोच कर अपनी चूत से पानी छोड़ती रहती है,

इधर कोमल के घर.......

रात को 11 बजे रवि मालती को सोता देख कर उठ कर कोमल के रूम की ओर जाता है और कोमल थोड़ी देर पहले ही आकर लेटी थी उसने एक स्कर्ट और और टीशर्ट पहना हुआ था और रवि उसके रूम में आकर उसे बेड पर पेट के बल अपने पैर फैलाए हुए अपनी मोटी गान्ड उठा कर सोते हुए देखा, कोमल की मोटी-मोटी गोरी-गोरी जांघे और मासल पिंडली पूरी नंगी नज़र आ रही थी और अपनी जवान बेटी की गदराई जवानी को देख कर रवि की आँखो में लाल डोरे तेरने लगे और उसके मोटे लंड की नसों में खून का दबाव बढ़ने लगा और कुछ ही देर में उसके मोटे लंड की रगों में खून पूरी तरह दौड़ने लगा, उसने धीरे से दरवाजा लॉक किया और कोमल के पास बैठ कर उसकी नंगी गोरी-गोरी पिन्डलियो को अपने हाथो से सहलाता हुआ उसकी गदराई जवानी और उठे हुए मोटे-मोटे चुतड़ों को देखने लगा, उसका लंड फुल खड़ा हो चुका था और उसकी लूँगी तन कर उपर उठ गई थी उसने धीरे से अपने हाथ को आगे बढ़ा कर कोमल की गदराई गोरी जाँघो को कस कर अपने हाथो में भर कर दबोचने लगा, कोमल की आँखे खुल गई और वह समझ गई कि उसके पापा उसकी मोटी-मोटी जाँघो को दबोच-दबोच कर मज़ा ले रहे है कोमल चुपचाप लेटी रही और रवि ने अपनी बेटी की स्कर्ट को उसकी गदराई मोटी गान्ड के उपर तक चढ़ा दिया और सुबह खरीदी हुई लाल पेंटी में कसे हुए उसके भारी और चिकने गदराए चुतड़ों को देख कर वह पागल हो गया और उसने अपनी बेटी की मोटी गान्ड में कसी हुई पेंटी को समेट कर पूरी उसकी गुदा में भर कर उसके चुतड़ों के मोटे-मोटे पाटो को पूरा नंगा करके उसके चुतड़ों के भारी-भारी एक दम दूध से सफेद पाटो को अपने हाथो में भर-भर कर दबोचने लगा,

रवि ने जब अपनी बेटी के गुदाज चुतड़ों के कोमल और मखमली स्पर्श को महसूस किया तो उससे रहा नही गया और उसने अपने मुँह को अपनी बेटी के भारी-भारी चुतड़ों के बीच लगा कर उसके मोटे-मोटे पाटो को अपने होंठो से चूमने लगा, कोमल अपने पापा की इस हरकत से मस्त होने लगी और उसकी फूली हुई चूत से पानी बहने लगा, तभी रवि ने कोमल के चुतड़ों से उसकी पेंटी को धीरे से नीचे सरका कर उसके घुटनो तक कर दिया और जब अपनी बेटी के भारी-भारी चुतड़ों के पाटो को विपरीत दिशा में फैला कर उसकी गुलाबी कसी हुई गुदा को देखा तो वह मस्त हो गया और अपने मुँह को अपनी बेटी के भारी चुतड़ों की गहरी दरार में लगा कर उसकी गान्ड के गुलाबी छेद को अपने होंठो से चूमते हुए अपनी जीभ से चाटने लगा और अपने एक हाथ की हथेली को अपनी बेटी की फूटी हुई चूत पर लेजा कर सहलाता हुए उसकी चूत के गदराए हुए उठाव को महसूस करने लगा फिर रवि ने अपने दोनो हाथो से अपनी बेटी की गान्ड का छेद और चूत के गुलाबी छेद को एक साथ फैलाकर उसकी चूत और गान्ड के गुलाबी छेद को चाटने लगा और उसके मुँह में अपनी बेटी की चूत का नमकीन पानी जैसे ही लगा उसने अपनी जीभ को अपनी बेटी की चूत के गुलाबी छेद में कस कर पेलते हुए उसकी फूली हुई चूत की फांको को अपने होंठो से दबा-दबा कर चूसने लगा,


अपने पापा की ऐसी हरकत से कोमल पागल हो गई और अपनी गान्ड को हिलाने लगी, रवि समझ गया कि कोमल जाग रही है और वह कोमल के पास जाकर लेट गया और अपने हाथो से कोमल के भारी-भारी चुतड़ों को दबोचते हुए उसकी गान्ड के छेद को सहलाने लगा और फिर कोमल के गालो को चूम कर

रवि- बेटी जाग रही हो

कोमल- अपनी आँखे खोल कर हाँ पापा लेकिन आप यह क्या कर रहे हो

रवि- अपनी बेटी के रसीले होंठो को अपने मुँह में भर कर चूस्ता हुआ क्यो तुम्हे अच्छा नही लग रहा है

कोमल- अपने पापा के सीने से अपने मोटे-मोटे दूध को दबाती हुई, पापा मुझे बहुत अच्छा लग रहा है, आप मम्मी के साथ भी ऐसा ही करते हो ना

रवि- हाँ बेटी तेरी मम्मी को भी बहुत मज़ा आता है जब में उसके साथ ऐसा करता हूँ लेकिन वह जब पूरी नंगी होकर मुझसे चिपकती है तब उसे ज़्यादा मज़ा आता है

कोमल- पापा मुझे भी पूरी नंगी करके अपने से चिपका लो ना

रवि- कोमल के मोटे-मोटे दूध को मसलता हुआ बेटी तू तो अपनी मम्मी से भी खूबसूरत लगेगी जब तू पूरी नंगी होकर मुझसे चिपकेगी

कोमल- पापा क्या में आपको मम्मी से भी सुंदर लगती हूँ

रवि - कोमल के कसे हुए दूध को कस कर मसलता हुआ बेटी अभी मेने तुझे पूरी नंगी देखा ही कहाँ है जब तू पूरी नंगी होकर मुझे दिखाएगी तब ही में कह पाउन्गा कि तू अपनी मम्मी से भी सुंदर है या नही

कोमल- तो पापा अपनी बेटी को पूरी नंगी करदो ना

रवि- अच्छा ठीक है तू उठ कर बैठ जा फिर कोमल उठ कर बैठ जाती है और रवि उसकी टीशर्ट को उतार देता है और जैसे ही अपनी बेटी के गदराए हुए कसे दूध को पूरा नंगा देखता है उसे उठा कर सीधे अपनी गोद में बैठा कर उसके दूध में अपना मुँह भर कर उसके दूध को अपने मुँह से दबाते हुए उसकी नगी गान्ड के छेद में अपना हाथ भर कर अपनी बेटी को अपने सीने से चिपका कर बेटी तू तो सचमुच अपनी मम्मी से भी खूबसूरत है, तू नंगी कितनी सुंदर लगती है

कोमल- पापा आप भी पूरे नंगे हो जाओ ना फिर मुझे अपनी गोद में बैठा कर मुझसे चिपक जाओ

कोमल की बात सुन कर रवि पूरा नंगा हो जाता है और कोमल जैसे ही अपने पापा को पूरा नंगा देखती है और उनके खड़े लंड को देख कर वह पागल हो जाता है और नीचे उतर कर अपनी स्कर्ट भी उतार कर पूरी नंगी हो जाती है और रवि खड़े-खड़े अपनी बेटी की दोनो जाँघो को अपनी कमर के आस पास कस कर उसे अपनी गोद में चढ़ा कर उसे अपने सीने से चिपका लेता है और कोमल पूरी नंगी होकर अपने पापा के उपर चढ़ कर कस कर अपने दूध को उनके सीने से चिपका लेती है रवि कोमल की मोटी गदराई गान्ड को अपने हाथो से दबोचता हुआ उसके रसीले होंठो को चूमने लगता है और कोमल पूरी नंगी अपने पापा पर चढ़ी हुई अपनी फूली चूत से पानी छोड़ने लगती है,
-  - 
Reply
08-16-2019, 12:19 PM,
#44
RE: Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम
रवि कोमल को बेड पर लेटा देता है और कोमल अपना हाथ फेलाकर

कोमल- पापा जैसे आप मम्मी के उपर पूरे नंगे होकर सो जाते हो वैसे ही अपनी बेटी के उपर सो जाओ ना और रवि सीधे कोमल के नंगे बदन पर पूरा लेट कर उसे अपने से कस कर चिपकते हुए उसके गदराए जिस्म को चूमते हुए सहलाने लगता है,

कोमल- पापा में कैसी लगती हूँ आपको

रवि- कोमल की मोटी गान्ड की दबोचता हुआ बेटी तू बहुत सुंदर है पूरी नंगी तू बहुत मस्त लगती है, तेरे मोटे-मोटे चूतड़ और दूध तो तेरी मम्मी से भी मोटे-मोटे है

कोमल- पापा आपको मेरी मोटी गान्ड और बड़े-बड़े दूध बहुत अच्छे लगते है ना

रवि- हाँ बेटी तू बहुत मस्त है आज में तुझे रात भर अपने से नंगी ही चिपकाए रखूँगा

कोमल- पापा मेरी चूत से बहुत पानी बह रहा है

रवि- उसके रसीले होंठो को चूम कर कोई बात नही बेटी में अभी तेरी पूरी चूत चाट कर तेरा पानी पी लेता हूँ, और रवि उसके उपर से उठ जाता है

कोमल- उसका हाथ पकड़ते हुए पापा मुझे भी आपका पीना है

रवि अच्छा ठीक है एक काम कर में लेट जाता हूँ और तू मेरे लंड की तरफ मुँह कर के मेरे उपर लेट जा

कोमल जल्दी से अपनी दोनो टाँगो को अपने पापा के आस पास करके उसके उपर लेट जाती है और अपनी मोटी गान्ड उठा कर अपने पापा के मुँह की ओर कर देती है और रवि अपनी बेटी की मस्त गुलाबी चूत और गान्ड के छेद को अपने होंठो से चूसने लगता है और कोमल अपने पापा के मोटे लंड को अपने मुँह में भर-भर कर चूसने लगती है, रवि अपनी बेटी की चूत की मोटी-मोटी फांको को फैला-फैला कर चाटने लगता है, रवि अपनी बेटी की गुलाबी चूत को खूब कस-कस कर चूस्ता हुआ उसकी फूली हुई चूत को पूरी लाल कर देता है और कोमल अपने पापा का मोटा लंड चुस्ती हुई खूब पानी छोड़-छोड़ कर अपने पापा के मुँह में अपनी चूत मारने लगती है रवि अपनी बेटी की गदराई जाँघो को खूब ज़ोर से अपने हाथो से कसे हुए उसकी चूत का रस खींच -खींच कर पीने लगता है और कोमल एक दम से अपने पापा के मुँह में खूब सारा पानी छोड़ने लगती है और रवि अपनी बेटी की चूत का सारा रस पी जाता है,


रवि जब कोमल की चूत को चोदने का नाम नही लेता है तब कोमल उसके मोटे लंड को अपने मुँह में भर कर इतना कस-कस कर चूसने लगती है कि रवि से बर्दास्त नही होता है और वह पागलो की तरह अपनी बेटी की फूली हुई बुर को अपने मुँह में पूरा भर कर उसकी चूत को खूब कस-कस कर चूस्ते हुए अपने लंड से अपनी बेटी के मुँह में पानी छोड़ देता है और कोमल उसके लंड का पानी पीते हुए उसके लंड को पूरा अपने मुँह में भर कर चुस्ती हुई अपने पापा के मुँह में अपनी पूरी चूत को भर देती है और फिर एक दम से सीधी उठ कर अपनी पूरी चूत को खोल कर अपने पापा के मुँह में बैठ जाती है और रवि अपनी बेटी की फूली चूत को अपनी पूरी जीभ निकाल कर खूब कस-कस कर चाटने लगता है और कोमल अपने पापा के मुँह में अपनी चूत धरे-धरे ही पानी छोड़ने लगती है और रवि अपनी बेटी की चूत को पूरी तरह चाट-चाट कर उसका सारा पानी चूस लेता है, और फिर कोमल एक और लुढ़क कर गहरी-गहरी साँसे लेने लगती है,




रवि उठ कर कोमल के रसीले होंठो को चूस्ता हुआ उसकी फूली हुई चूत को अपने हाथो में भर कर दबोचने लगता है और कोमल अपनी दोनो जाँघो को उपर उठा कर अपनी टाँगे फैला देती है और अपने पापा का हाथ अपने मोटे-मोटे दूध पर रख कर पापा आओ ना मेरे उपर सो जाओ

रवि अपनी बेटी की गदराई जवानी और उसकी बुर को देख कर पागल हो जाता है और अपने दोनो पेरो पर बेड पर बैठ कर अपने लंड को अपनी बेटी के मुँह की ओर करके जैसे ही कोमल की फूली हुई चूत को कस कर अपने हाथो में भर कर दबोचता है कोमल अपने पापा के मोटे लंड को पकड़ कर अपने मुँह में भर कर पीने लगती है, रवि कोमल की चूत को अपने हाथो से मसलता हुआ उसके दूध को दबाने लगता है और कोमल अपने पापा को अपने उपर खिचने लगती है और अपनी जाँघो को खूब कस कर फैला देती है और रवि अपनी बेटी की मोटी-मोटी जाँघो को कस कर पकड़ लेता है और अपने मोटे लंड को कोमल की फूली हुई चूत से सटा कर एक कस कर धक्का कोमल की चूत में मार देता है और उसका लंड उसकी बेटी की चूत को चीरता हुआ आधे से ज़्यादा अंदर उतर जाता है और कोमल ओह पापा मर गई आहह,

रवि कोमल की जाँघो को कसे उसे तुरंत दूसरा तगड़ा धक्का अपनी बेटी की कसी हुई चूत में मार देता है और उसका पूरा लंड अपनी बेटी की चूत को फाड़ता हुआ जड़ तक उसकी चूत में समा जाता है और कोमल का बदन ऐंठ जाता है और वह बुरी तरह ताड़पते हुए ओह पापा मर जाउन्गी पापा आह, रवि कोमल के दूध को मसल्ते हुए उसके उपर पूरा सो जाता है और अपने लंड के धक्के अपनी बेटी की चूत में खूब जड़ तक मारने लगता है उसके हर धक्के के साथ कोमल आह, आह पापा करने लगती है, रवि कोमल की गदराई जवानी को मसल्ते हुए उसे कस-कस कर चोदने लगता है और कोमल पागलो की तरह अपने पापा को चूमते हुए अपनी गान्ड को उठा-उठा कर अपनी फूली हुई चूत को अपने पापा के मोटे लंड पर मारने लगती है,

कोमल की गान्ड के छेद में रवि एक उंगली डाल कर उसकी चूत को अपने लंड से खूब रगड़-रगड़ कर चोदने लगता है और कोमल पागलो की तरह अपने पापा के नंगे बदन से चिपकते हुए अपनी चूत उठा-उठा कर अपने पापा के मोटे लंड पर मारते हुए ओह पापा बहुत मज़ा आ रहा है और चोदो पापा ऐसे ही हाँ हाँ ओह ओह पापा में मर जाउन्गी और चोदो पापा खूब तेज-तेज चोदो अपनी बेटी को आज फाड़ दो अपनी बेटी की चूत को आह, आह

रवि -खूब कस-कस कर अपनी बेटी को चोदते हुए उसके रसीले होंठो को पीने लगता है और कोमल की चूत पूरी तरह चिकनी हो जाती है और वह अपने पापा का मोटा लंड सतसट अपनी चूत में लेने लगती है, दोनो ओर से चूत और लंड के धक्के पूरी ताक़त से लगने लगते है और कुछ ही देर में कोमल आह, आह करती हुई अपने पापा से कस कर चिपक जाती है और रवि अपने दोनो हाथो से अपनी बेटी की गान्ड को उठा कर सतसट अपने लंड से उसकी चूत मारते हुए अपने लंड को उसकी चूत में जड़ तक ठूंस देता है और उसका पानी रुक-रुक कर उसकी बेटी की फूली हुई चूत की गहराई में निकलने लगता है और कोमल अपने पापा के मोटे लंड को अपनी चूत से कस कर चिपकाए हुए अपने पापा से कस कर चिपक कर पानी छोड़ती हुई गहरी-गहरी साँसे लेने लगती है और रवि कोमल को चूमता हुआ उसके बदन से पूरी तरह कस कर चिपक जाता है और फिर दोनो 2 मिनट तक शांति से एक दूसरे के उपर सांस लेते हुए पड़े रहते है,

कुछ देर बाद रवि जल्दी से उठ कर अपने कपड़े और लूँगी पहन कर कोमल के रूम से जाने लगता है तो कोमल उसका हाथ पकड़ कर पापा आज मेरे साथ ही सो जाओ ना,


रवि- बेटी तेरी मम्मी बहुत शंकालु है उसे पता लगेगा तो ना जाने क्या-क्या सवाल पूछेगी इसलिए अब में जाता हूँ कहीं जाग कर ढूँढती हुई इधर ना आ जाए,

कोमल- मुस्कुराकर आप कितना डरते हो मम्मी से

रवि- मुस्कुराते हुए चल अब सो जा अब में जा रहा हूँ और फिर रवि रूम के बाहर चला जाता है और कोमल मुस्कुराती हुई उठ कर अपनी टीशर्ट और स्कर्ट डाल कर लेट जाती है और मंद-मंद मुस्कुराती हुई अपने मन में सोचने लगती है, कल तक तो में लंड के लिए तड़प रही थी और आज एक नही बल्कि दो-दो लंड से मुझे चुदने को मिल गया और फिर कोमल मुस्कुराते हुए तकिये को अपनी बाँहो में भर कर मीठी नींद के आगोश में चली जाती है

उधर रात को रश्मि और राज एक दूसरे से बाते कर रहे थे तभी रश्मि की नज़र पर्दे की ओर जाती है और वहाँ उसे अपनी मम्मी की झलक दिखाई देती है और वह अपनी तिरछी नज़रो से देख लेती है कि उसकी मम्मी पर्दे के पीछे खड़ी उनकी बाते सुन रही है, रश्मि जान बुझ कर राज की गोद में चढ़ कर बैठ जाती है और

रश्मि- भैया मेरी चूत सहलाओ ना

राज - रश्मि के होंठो को चूमता हुआ अपने हाथ से उसकी फूली हुई बुर को सहलाने लगता है

रश्मि- भैया आज मम्मी की चूत भी ऐसे ही सहला देना

राज - हे रश्मि आज तो में मम्मी को पूरी नंगी करके रात भर चोदने के मूड में हूँ अब बहुत हो गया आज मम्मी को पूरी नंगी करके तबीयत से उसकी चूत मारूँगा जब से मम्मी का फूला हुआ भोसड़ा देखा है मेरा लंड दिन रात खड़ा रहता है, और रश्मि मुझे मम्मी की गदराई मोटी गान्ड को अपने मुँह में भर कर चाटने में बहुत मज़ा आया था मम्मी की गान्ड भी आज खूब कस कर मारूँगा, क्या गजब की गदराई गान्ड है मम्मी की जब मेरे सामने से अपने मोटी गान्ड मटकाती हुई जाती है तो ऐसा लगता है अभी उसकी साड़ी उठा कर उसकी मोटी गान्ड में अपना मोटा लंड फसा दूं

रश्मि- मम्मी की गान्ड और चूत को तुमने खूब चूमा था ना

राज - हाँ रश्मि बहुत मस्त और फूली हुई चूत है मम्मी की रात भर नंगी करके खूब कस-कस कर चोदने लायक है मम्मी तूने सच कहा था मेरा मोटा लंड अब अपनी मम्मी की फूली हुई चूत के लायक हो गया है जब में मम्मी के मस्ताने भोस्डे में अपना मोटा लंड पेलुँगा तो मम्मी मस्त हो जाएगी, रश्मि सबसे ज़्यादा मज़ा तो अपनी मम्मी को पूरी नंगी करके उसकी चूत में अपने मोटे लंड को डाल कर चोदने में आता है मम्मी को पूरी नंगी करके अपने मोटे लंड में चढ़ा कर खूब हचक-हचक कर उसकी चूत मारूँगा

आज से में रोज मम्मी को पूरी नंगी करके उसके साथ पूरा नंगा चिपक कर सोउंगा और अपने लंड से दिन रात उसकी फूली हुई चूत को मारूँगा, देखना मम्मी बहुत मस्ती से अपनी फूली हुई चूत उठा-उठा कर मुझसे अपनी चूत मरवाएगी

रश्मि- भैया चूत के अंदर तक उंगली डालो ना आह हाँ ऐसे ही बहुत अच्छा लग रहा है और कैसे चोदोगे मम्मी को

राज - हे रश्मि मम्मी की गदराई गान्ड को खूब कस-कस कर चोदुन्गा अपनी मम्मी की चूत मारने का मज़ा ही कुछ और होता है मम्मी जब घर में अपनी गान्ड मटका कर घूमती है तो मेरा लंड हमेशा खड़ा ही रहता है

रश्मि- जब मम्मी झुकती होगी तो तुम्हे उसकी मोटी गान्ड पूरी नंगी ही नज़र आती होगी ना

राज - हाँ उसकी गान्ड का छेद भी मुझे नज़र आने लगता है और फिर मम्मी का उठा हुआ पेट गदराई मोटी गान्ड मोटे-मोटे दूध हर किसी का लंड अपनी मम्मी के गदराए बदन को देख कर खड़ा हो जाता होगा, कई लोग तो अपनी मम्मी की पेंटी देख कर ही उसकी चूत की कल्पना करने लगते है,

रश्मि- पर हमारी मम्मी तो पेंटी पहनती ही नही है

राज - इसीलिए तो मम्मी के भारी चुतड़ों के मोटे-मोटे पाट उसकी साड़ी से अलग ही नज़र आते है उसकी गान्ड की गहराई भी बहुत है पूरा हाथ घुस जाता है उसकी गान्ड की मोटी दरार में और फिर मम्मी का बदन भी इतना मुलायम और भरा हुआ है कि में तो जब उससे चिपकता हूँ तभी मेरा लंड खड़ा हो जाता है

रश्मि- अच्छा तुम्हारा लंड मम्मी को देख कर पहली बार कब खड़ा हुआ था
-  - 
Reply
08-16-2019, 12:19 PM,
#45
RE: Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम
राज - जब मेने मम्मी का गदराया उठा हुआ पेट और गहरी नाभि को देखा था तब मुझे ऐसा लगा कि मम्मी का पेट इतना गुदाज और उठा हुआ है तो उसकी चूत कितनी फूली हुई होगी और मेरा लंड मम्मी के पेट को ही देख कर झटके मारने लगा था

रजनी की चूत पूरी गीली हो चुकी थी और वह अपनी साड़ी के उपर से ही अपनी चूत के दाने को रगड़ती हुई उसे बुरी तरह मसल रही थी और उसे अपने बेटे की बातों से बड़ा मज़ा आ रहा था,

रश्मि- भैया मेरी गान्ड चाटोगे

राज - क्यो नही मेरी रानी चल घोड़ी बन जा और रश्मि झट से घोड़ी बन जाती है, रश्मि की मोटी गदराई गान्ड को देख कर राज उसकी मोटी गान्ड पर एक थपकी मारते हुए उसकी चूत और गान्ड को अपने हाथो से सहलाने लगता है और रजनी अपनी बेटी की मोटी पूरी खुली हुई गान्ड बड़े गौर से देखने लगती है और अपने मन में कितनी चुदासी हो गई है रश्मि कितना मज़ा आ रहा होगा उसे राज कितने प्यार से उसकी चूत और गान्ड का छेद सहला रहा है, राज उसकी गान्ड के पास बैठ कर अपने मुँह को उसकी गान्ड की गहरी दरार में भर कर कस कर दबोचने लगता है और रश्मि ओह भैया मज़ा आ रहा है थोड़ा अपनी जीभ से मेरी गान्ड के छेद को चाटो ना और राज उसकी गान्ड और चूत को अपनी जीभ निकाल कर चाटने लगता है कुछ देर तक रश्मि अपनी गान्ड को अपने हाथो से फैला-फैला कर अपने भैया को चाटती है फिर

रश्मि- भैया अब अपने मोटे लंड को मेरी चूत में कस कर पेल दो बहुत खुज़ला रही है

और राज अपने मोटे लंड को जब बाहर निकालता है तो रजनी अपने बेटे के मोटे खड़े लंड को देख कर अपनी चूत में दो उंगलिया कस कर पेलने लगती है और राज रश्मि की चूत की मोटी-मोटी फांको को खूब कस कर फैला लेता है और एक कस कर धक्का मारता है और उसका पूरा लंड रश्मि की चूत को चीरता हुआ जड़ तक फिट हो जाता है और रश्मि आह भैया मर गई रे करने लगती है, राज पहले धीरे-धीरे रश्मि की चूत में अपना मोटा लंड गहराई तक पेलता है उसके बाद जब रश्मि की चूत कुछ ज़्यादा चिकनी हो जाती है तब राज सतसट अपनी बहन की चूत को चोदने लगता है और रश्मि अपनी गान्ड के धक्को को पीछे की ओर अपने भैया के लंड पर मारने लगती है उनकी चुदाई से थप-थप की आवाज़ पूरे रूम में गूंजने लगती है और रजनी की चुत भी पानी-पानी हो जाती है वह बहुत मज़ा ले कर अपने बेटे और बेटी की चुदाई देख-देख कर मूठ मारने लगती है,

राज रश्मि की मोटी गान्ड पर थप्पड़ मारते हुए खूब कस-कस कर उसकी गान्ड चोदने लगता है और रश्मि घोड़ी बनी हुई बड़े मज़े से अपने भैया का मोटा लंड अपनी चूत में लेने लगती है.

लगभग 20 मिनट तक राज रश्मि की चूत मार-मार कर लाल कर देता है और जब उसकी रफ़्तार ज़्यादा तेज हो जाती है तो रश्मि कहती है भैया अपना रस मेरे मुँह में निकालना और रश्मि खूब रसीली होकर झड़ने लगती है और जैसे ही राज का पानी निकलने वाला होता है वह एक दम से अपना लंड बाहर खींच लेता है और रश्मि झट से घूम कर उसके मोटे लंड को अपने मुँह में भर कर चूसने लगती है और उसका सारा रस चूस-चूस कर पीने लगती है और रजनी अपना मुँह फाडे रश्मि को अपने बेटे के लंड का रस पीते हुए देखने लगती है,


कुछ देर बाद रश्मि कहती है भैया अब मुझे सोना है अब जाओ और आज मम्मी को भी चोद दो, उनकी बात सुन कर रजनी जल्दी से अपनी साड़ी नीचे करके अपने रूम में आ जाती है और आकर बेड पर लेट जाती है उसकी साँसे बहुत तेज चल रही थी और वह काफ़ी घबरा रही थी, तभी राज उसके रूम में आता है और अपनी मम्मी के पास बैठते हुए

राज - मम्मी अभी तक सोई नही

रजनी- हाँ बेटे तेरा ही वेट कर रही थी

राज - अपनी मम्मी पर झुक कर उसके होंठो को चूम कर मम्मी तुम बहुत खूबसूरत हो

रजनी-मुस्कुरा कर चल आ जा मेरे पास और अपनी मम्मी के सीने से लग कर सो जा

राज अपनी मम्मी के पास लेट जाता है और उसको अपनी बाँहो में भर कर चिपकते हुए

राज - मम्मी आज कुछ ठंड लग रही है ना

रजनी- आ अपनी मम्मी से अच्छे से चिपक कर सो जा बेटे आज तो मुझे भी ठंड लग रही है

राज - मम्मी तुमने कभी जीन्स पहना है

रजनी- मुस्कुराते हुए बेटे में इतनी मोटी हूँ मुझे क्या जीन्स आएगा

राज - कहाँ ज़्यादा मोटी हो और फिर आजकल तो तुमसे भी मोटी-मोटी औरते जीन्स पहनती है

रजनी- मुस्कुराते हुए क्यो तुझे अपनी मम्मी को जीन्स पहने हुए देखने का मन है क्या

राज - अपने मन में मम्मी अगर तुम जीन्स पहन कर घर में मेरे सामने घुमोगी तो तुम्हारी गदराई मोटी गान्ड देख कर मेरा लंड तुरंत पानी छोड़ देगा

राज - हाँ मम्मी मेरा बहुत मन करता है कि में आपको जींस पहने देखु

रजनी- मुस्कुराते हुए क्या कोई बेटा भी अपनी मम्मी को जीन्स पहने देखना चाहता है, तू जानता है अगर में जीन्स पहन लूँगी तो मेरे भारी-भारी चूतड़ बहुत बड़े-बड़े और अलग ही नज़र आएगे

राज - अपनी मम्मी के भारी-भारी चुतड़ों को सहलाता हुआ, मम्मी मुझे तो तुम्हारे ये मोटे-मोटे चूतड़ बहुत अच्छे लगते है

रजनी- चल बदमाश कहीं का भला कोई बेटा अपनी मम्मी के चुतड़ों को देखना चाहता है क्या और तू तो मेरे चुतड़ों को अपने हाथ से सहला भी रहा है

राज - मम्मी मुझे तो अपनी मम्मी के चूतड़ ही सबसे अच्छे लगते है, में तुम्हारे चुतड़ों को सहला रहा हूँ तो क्या तुम्हे अच्छा नही लग रहा है

रजनी- हाँ अच्छा तो लग रहा है लेकिन बेटे

राज - लेकिन क्या मम्मी आप मुझसे अच्छे से चिपक जाओ में आपके मोटे-मोटे चुतड़ों को ऐसे ही सहलाना चाहता हूँ

राज अपनी मम्मी की मोटी गान्ड को सहलाता हुआ उसके मोटे-मोटे दूध में अपना मुँह भर कर उससे कस कर चिपक जाता है, और अपनी एक टाँग उठा कर अपनी मम्मी की मोटी-मोटी जाँघो के उपर रख लेता है

राज - मम्मी तुम्हारा बदन तो बहुत गरम लग रहा है और कितना मुलायम है, और राज अपनी मम्मी की गदराई हुई मोटी जाँघो को दबाने लगता है, रजनी की फूली हुई चूत से पानी आने लग जाता है और वह राज के गालो को चूम लेती है

राज - मम्मी तुम्हारे होंठ बहुत सुंदर है

रजनी- मुस्कुराते हुए क्यो तुझे चूमने का मन कर रहा है

उसकी बात सुनते ही राज अपनी मम्मी के रसीले होंठो को कस कर अपने मुँह में भर कर पीने लगता है और अपने हाथ से अपनी मम्मी की मोटी गान्ड की गहरी दरार को सहलाने लगता है राज का टॉवेल खुल जाता है और उसका मोटा लंड अपनी मम्मी के पेडू में चुभने लगता है, रजनी अपने बेटे के मोटे लंड के अहसास से पागल होने लगती है और राज को अपने बदन से कस कर चिपका लेती है, राज अपनी मम्मी के होंठ चूस कर उसके गदराए हुस्न को देखने लगता है और रजनी उसकी और देख कर मुस्कुराने लगती है तभी राज फिर से अपनी मम्मी के रसीले होंठो को अपने मुँह में भर कर दूसरे हाथ से उसके गुदाज नंगे पेट को सहलाते हुए धीरे से अपनी मम्मी के दूध पर हाथ फेरने लगता है रजनी उसकी हरकत से अपनी आँखे बंद कर लेती है और राज धीरे से उसके ब्लौज का एक बटन खोल देता है रजनी के ब्ल्ौज के दो बटन तो पहले से ही खुले थे तीसरा बातों खुलते ही उसके मोटे-मोटे दूध आधे से ज़्यादा बाहर आ जाते है और राज अपनी मम्मी के दूध को सहलाता हुआ उसके रसीले होंठो को चूमने लगता है,
-  - 
Reply
08-16-2019, 12:19 PM,
#46
RE: Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम
रजनी- बेटे क्या कर रहा है अब सो जा

राज - मम्मी में अपनी मम्मी को प्यार कर रहा हूँ

रजनी- मुस्कुराते हुए क्या इतना प्यार करता है अपनी मम्मी से

राज - सबसे ज़्यादा

रजनी- अच्छा बेटे में सो रही हूँ तू भी अब सो जा

राज - नही मम्मी आप आराम से सो जाओ आज में आपको रात भर प्यार करता रहूँगा

रजनी- मुस्कुराते हुए ठीक है तुझे जो करना है कर में सो रही हूँ और रजनी अपनी आँखे बंद करके पीठ के बल सीधी सो जाती है और राज अपनी मम्मी के उठे हुए गुदाज पेट को अपने हाथो से सहलाता हुआ उसकी मोटी जाँघो से अपने लंड को चुभाने लगता है, करीब 10 मिनट तक राज रजनी के पेट को उसकी सदी उसकी नाभि से कभी नीचे सरका कर सहलाता रहता है और फिर राज

राज - मम्मी सो गई क्या

रजनी- अपनी आँखे बंद किए लेटी रहती है पर कुछ बोलती नही है राज धीरे से अपने हाथ के पंजे को सीधा अपनी मम्मी की साड़ी के अंदर छुपी हुई फूली हुई चूत पर रख देता है अपनी मम्मी की गुदाज और उठी हुई गदराई चूत के अहसास से राज का मोटा लंड झटके मारने लगता है और वह अपनी मम्मी की फूली हुई चूत को अपनी हथेलियो में कस कर दबोच लेता है और उसकी इस हरकत से रजनी अंदर ही अंदर मस्त होने लगती है राज अपनी मम्मी की चूत को खूब कस-कस कर दबोचते हुए उसके कानो के पास अपना मुँह ला कर धीरे से मम्मी कितनी मस्त और फूली हुई चूत है तुम्हारी आज तुम्हारा बेटा अपने मोटे लंड से तुम्हारी इस चूत को रात भर चोदेगा

अपने बेटे के मुँह से ऐसी बात सुन कर रजनी सिहर जाती है और राज अपनी मम्मी की साड़ी को उसकी कमर से खीच कर निकाल देता है और फिर वह अपनी मम्मी के पेटीकोत के नाडे को खीच कर खोल देता है और फिर जैसे ही वह अपनी मम्मी के पेटिकोट को नीचे सरकाता है अपनी मम्मी की गदराई उठी हुई फूली चिकनी चूत को देख कर पागल हो जाता है और बड़े प्यार से अपने हाथ को अपनी मम्मी की फूली हुई चूत पर फेरते हुए सहलाने लगता है, रजनी अपनी आँखे बंद किए हुए चुपचाप मज़ा लेती रहती है राज अपने दूसरे हाथ से अपनी मम्मी के ब्लाउज के पूरे बटन खोल कर उसके मोटे-मोटे दूध को पूरे नंगा कर देता है और उसके मोटे-मोटे दूध को दबाता हुआ अपनी मम्मी से कस कर चिपक जाता है और फिर राज अपनी मम्मी की फूली हुई चूत के उपर झुक कर अपने होंठो को सीधे उसकी गदराई चूत के उपर ले जाकर रख देता है और फिर अपने मुँह से अपनी मम्मी की चूत को खूब ज़ोर से दबाने लगता है और दूसरे हाथ से उसके मोटे-मोटे दूध को कस-कस कर मसल्ने लगता है,

और अपनी मम्मी को आँखे बंद किए हुए देख कर मम्मी तुम पूरी नंगी बहुत ही सेक्सी लग रही हो और फिर राज अपनी मम्मी की मोटी गदराई जाँघो को थोड़ा फैला कर अपनी मम्मी की फूली हुई चूत की मोटी-मोटी फांको को अपने दोनो हाथो से फैला कर देखता है और फिर उसकी चूत के गुलाबी भाग को देख कर अपनी जीभ से अपनी मम्मी की गुलाबी रसीली चूत को चाटने लगता है, रजनी एक दम से सिसकी मार देती है और अपनी जाँघो को थोड़ा फैला देती है राज अपनी मम्मी की चूत के पास आकर लेट जाता है और उसकी मोटी जाँघो को पूरी तरफ फैला कर उसकी मस्तानी चूत को खूब कस-कस कर चूसने लगता है और रजनी खूब सारा पानी छोड़ने लग जाती है रजनी से बर्दास्त करना मुश्किल हो जाता है तभी राज अपने सारे कपड़े निकाल कर पूरा नंगा हो जाता है और धीरे से अपनी मम्मी के पूरे नंगे गदराए बदन के उपर लेट जाता है और रजनी को कस कर अपने से चिपका कर चूमने लगता है,

रजनी जैसे ही अपने बेटे को पूरा नंगा होकर अपने उपर महसूस करती है उसके सब्र का बाँध टूट जाता है और वह अपने हाथो से राज को कस कर दबोच लेती है और पागलो की तरह चूमने लगती है,

राज अपनी मम्मी के रसीले होंठो को चूमते हुए ओह मम्मी तुम बहुत मस्त माल हो तुम्हे चोद कर तो मज़ा आ जाएगा बोलो अपने बेटे का मोटा लंड अपनी चूत में लोगि

रजनी- राज को चूमते हुए आह राज यह क्या कर रहा है बेटे आह और राज अपने लंड को अपनी मम्मी के उपर सोते हुए ही उसकी चूत का रास्ता दिखा देता है और रजनी भी अपनी जांघे खोल देती है और राज का मोटा लंड रजनी की चिकनी फूली हुई चूत के छेद से भिड़ जाता है राज ज़रा सी अपनी मम्मी की चूत पर अपने मोटे लंड को दबाता है और उसका मोटा गुलाबी सुपाडा सॅट से उसकी मम्मी की चूत के छेद में फस जाता है रजनी अपनी दोनो टाँगे उपर उठा देती है और राज एक कस कर धक्का अपनी मम्मी की फूली हुई चूत पर मार देता है और उसका मोटा लंड उसकी मम्मी की चूत में जड़ तक
पहुच जाता है और रजनी के मुँह से आह की आवाज़ निकल जाती है और वह अपनी जाँघो को पूरा खोल कर राज को अपने नंगे बदन से कस कर चिपका लेती है

राज - अपने मम्मी के मोटे-मोटे दूध को कस कर दबाते हुए अपने मोटे लंड को सतसट अपनी मम्मी की गदराई चूत पर मारने लगता है और रजनी नीचे से अपनी मोटी गान्ड उठाते हुए ओह बेटे आह आह बहुत मज़ा आ रहा है कब से तड़प रही हूँ तेरे इस मोटे लंड के लिए आह और तेज और तेज चोद बेटे आज फाड़ दे अपनी मम्मी की पूरी चूत खूब कस कर चोद

बेटे, राज अपनी मम्मी की बात सुन कर सतसट अपने लंड को उसकी चूत में कस-कस कर पेलने लगता है

रजनी खूब ज़ोर-ज़ोर से अपने बेटे के लंड पर अपनी चूत मारने लगती है और एक दम से आह आह करती हुई अकड़ जाती है और उसकी चूत पानी छोड़ने लगती है पर राज अभी-अभी झड कर आया था इसलिए उसका पानी नही निकल पाता है और वह अपनी मम्मी की चूत को कुछ देर तक और मारता रहता है और रजनी फिर से गरम हो जाती है राज अपने मोटे लंड को बाहर निकाल कर अपनी मम्मी को घोड़ी बनने को कहता है और रजनी अपनी मोटी गदराई गान्ड को अपने बेटे की और उठा देती है,

राज तुरंत अपनी मम्मी की फूली हुई चूत से लेकर उसकी गहरी कसी हुई गुदा तक अपनी जीभ निकाल कर फेरने लगता है और रजनी आह आह करने लगती है राज अपनी मम्मी की फूली हुई चूत और गुदा को अपनी जीभ और होंठो से कस-कस कर चाटने लगता है, फिर राज अपने दोनो हाथो से अपनी मम्मी की फूली हुई चूत की बड़ी-बड़ी फांको को पूरी तरह फैला कर उसके मस्ताने भोस्डे के गुलाबी छेद को चाटने लगता है और अपनी मम्मी की चूत से बहता नमकीन पानी चाट-चाट कर उसकी चूत को अपने मुँह से खूब कस-कस कर रगड़ने लगता है, राज अपनी एक उंगली में थूक लगा कर अपनी मम्मी की चूत को चूस्ता हुआ अपनी उंगली उसकी गुदा में डाल कर कस-कस कर पेलते हुए चूत को खूब ज़ोर-ज़ोर से चूसने लगता है और
रजनी आह आह बेटा बहुत मज़ा आ रहा है और चाट खूब पी ले बेटा अपनी मम्मी की प्यासी चूत को खूब चूस राज और चूस,

राज करीब 10 मिनट तक अपनी मम्मी की चूत और गान्ड को चाट-चाट कर पूरी लाल कर देता है फिर
राज अपने मुँह से थूक निकाल कर रजनी की गुदा में भर देता है और अपने लंड को अपनी मम्मी की गान्ड के मोटे छेद में लगा कर कस कर धक्का मारता है और रजनी एक दम से आहह आहह करती हुई चिल्लाने लगती है और राज के लंड का मोटा टोपा अपनी मम्मी की कसी हुई गुदा में फस जाता है

रजनी- बेटे निकाल ले ओह बहुत दर्द कर रहा है राज प्लीज़ बेटे निकाल ले

राज अपनी मम्मी की चूत में हाथ भर कर सहलाते हुए उसकी मोटी गान्ड को थाम कर एक दूसरा धक्का खूब कस कर मार देता है और और रजनी मर गई रे आह राज में मर जाउन्गी निकल ले बेटे

राज - बस मम्मी थोड़ा सा और बचा है और फिर अपनी मम्मी की चूत में अपनी दो उंगलिया भर कर उसकी चूत को मसल्ते हुए अपनी मम्मी की मोटी गान्ड को अपने लंड की ओर दबाते हुए अपने लंड को उसकी गुदा की ओर दबाने लगता है और उसका लंड धीरे-धीरे उसकी मम्मी की गान्ड के छेद को फैलाता हुआ अंदर जाने लगता है और रजनी आह आह करती हुई सीसीयाने लगती है,

रजनी- राज रुक जा बेटे फटी जा रही है रुक प्लीस और राज अपने लंड की धीरे-धीरे आगे पीछे करने की कोशिश करने लगता है रजनी की गान्ड राज के मोटे लंड को खूब कसे रहती है और राज पूरी ताक़त लगा कर अपने लंड को अपनी मम्मी की मोटी गान्ड के छेद में अपने लंड को जड़ तक एक तगड़ा धक्का मार कर उतार देता है और रजनी की आवाज़ बंद हो जाती है और वह गहरी-गहरी साँसे लेते हुए अपनी गान्ड के छेद को कभी कस्ति है और कभी फैलाने लग जाती है, राज अपनी मम्मी के मस्ताने भोस्डे को खूब कस-कस कर सहलाते हुए उसकी कसी हुई गान्ड में अपने लंड को आगे पीछे करने लगता है और धीरे-धीरे लेकिन गहरे धक्के के साथ अपनी मम्मी की कसी हुई गान्ड चोदने लगता है,
राज - मम्मी अब कैसा लग रहा है

रजनी- आह बेटा बहुत अच्छा लग रहा है थोड़ा तेज-तेज मार ना

राज - कस कर धक्का मरते हुए ऐसे मम्मी

रजनी- अपनी गान्ड को उसके मोटे लंड पर मारती हुई, हाँ बेटे ऐसे ही थोड़ा और कस कर चोद अपनी मम्मी को, आज फाड़ दे अपनी मम्मी की मोटी गान्ड को, तुझे बहुत अच्छी लगती है ना अपनी मम्मी की मोटी गान्ड, में जानती हूँ तू खूब कस-कस कर मेरी गान्ड चोदना चाहता है

राज - कस कर धक्का मारते हुए हाँ मम्मी तुम्हारी गान्ड बहुत मस्त है तुम्हारी मोटी गान्ड ने तो मुझे बहुत पागल कर रखा था आज में तुम्हारी गान्ड मार-मार कर लाल कर दूँगा

रजनी- बेटे लंड पूरा बाहर निकाल कर फिर खूब कस कर मेरी गान्ड में मार बहुत अच्छा लग रहा है

राज - अपने लंड को बाहर तक खींच कर फिर खच्च से अपनी मम्मी की गान्ड में पेल देता है और लो मम्मी ऐसे ही ना

रजनी-आह हाँ बेटे ऐसे ही और चोद खूब कस-कस कर चोद और मेरी चूत भी मसलता जा बहुत मज़ा आ रहा है हाँ राज ऐसे ही हाँ और तेज और तेज खूब चोद , खूब कस-कस कर चोद बेटे आह आह आह

राज तबीयत से अपनी मम्मी की चूत मसल्ते हुए अपने मोटे लंड को उसकी गान्ड में पेलने लगता है और अपनी मम्मी के चुतड़ों के मोटे-मोटे पाटो कभी कस कर दबाता है कभी उन्हे अपने हाथो से थप्पड़ मारते हुए अपने लंड को खूब कस-कस कर अपनी मम्मी की गुदा में ठोकने लगता है और उसे बहुत मज़ा आने लगता है

राज - हे मम्मी बहुत ही कसा हुआ जा रहा है तुम्हारी मोटी गान्ड में मेरा लंड

रजनी- आह हाँ बेटे तेरा लंड भी तो कितना मोटा है बहुत मज़ा दे रहा है बेटे तेरा लंड और चोद खूब कस कर चोद आह आह आह आह

राज सतसट अपनी मम्मी की मोटी गान्ड को चोदने लगता है और उसकी रफ़्तार जब बहुत तेज हो जाती है तो राज अपनी मम्मी की गान्ड में अपने लंड के सतसट 4-5 धक्के जड़ तक पेलता हुआ कस कर अपनी मम्मी की गुदा में अपने लंड को जड़ तक फसा कर अपनी मम्मी की गान्ड से चिपकते हुए रुक-रुक कर अपने लंड से पिचकारी अपनी मम्मी की मोटी गान्ड की गहराई में छोड़ने लगता है, और रजनी पेट के बल लेट जाती है और खूब गहरी-गहरी साँसे लेने लगती है राज भी अपने मोटे लंड को अपनी मम्मी की मोटी गान्ड के छेद में फसाए हुए उसकी नंगी गान्ड के उपर लेट जाता है और फिर दोनो माँ बेटे 5 मिनट तक ऐसे ही पड़े रहते है और फिर सीधे लेट कर एक दूसरे को चूमते हुए एक दूसरे के लंड और चूत को सहलाते हुए चिपक जाते है,

राज अपनी मम्मी के उपर चढ़ा कर उससे पूरी तरह चिपक कर

राज -मम्मी आज रात भर में आपके उपर ऐसे ही नंगा चिपक कर सोउंगा

रजनी- उसकी बाते सुन कर मुस्कुराते हुए, बेटे तू बहुत अच्छा चोदता है आज तूने मेरी चूत और गान्ड दोनो को मस्त कर दिया है,

राज - मम्मी आज तो सारी रात में तुम्हे पूरी नंगी रख कर चोदता ही रहूँगा

रजनी- अच्छा क्या तुझे मेरी चूत इतनी पसंद आई है

राज - मम्मी अपने बेटे को अपनी चूत पिलाओगी ना

रजनी- अभी तो पिया है ना तूने

राज - मम्मी ऐसे नही तुम मेरे मुँह पर बैठ कर मुझे अपनी चूत पिलाओ

रजनी- मुझे उस तरह तेरे मुँह पर बैठने में शर्म आती है

राज - अच्छा चलो में तुम्हारी शर्म अभी दूर कर देता हूँ और वह अपनी मम्मी को उठा कर बाथरूम में लेकर जाता है और वहाँ उसे बैठने को कहता है

राज - अपनी मम्मी के सामने मूतने की स्टाइल में बैठ कर अपनी मम्मी के मोटे भोस्डे पर हाथ फेरता हुआ मम्मी पेशाब लगी है

रजनी- सीसियाते हुए हाँ

राज - तो मुतो ना

रजनी- तू पहले अपना हाथ तो हटा

राज - नही में ऐसे ही तुम्हारी चूत सहलाता जाउन्गा तुम ऐसे ही मुतो

रजनी- लेकिन बेटे

राज - अपने हाथ से उसकी गुदा को सहलाता हुआ उसकी चूत के छेद में उंगली पेल कर मुतो ना

रजनी- आह और फिर रजनी की चूत से एक मोटी धार निकलती है और राज कस के उसके भज्नाशे को अपनी उंगली से दबा लेता है और रजनी का मूत एक दम से रुक जाता है,

रजनी- यह क्या कर रहा है बेटे

राज - मम्मी ऐसे नही थोड़ा रुक-रुक कर मुतो

रजनी- अपनी चूत से रुक-रुक कर मूतने लगती है और राज उसकी पूरी चूत को सहलाने लगता है रजनी उसकी इस हरकत से पागल हो जाती है और फिर रुक-रुक कर मूतने लगती है जब वह मुतती है तो राज उसकी पूरी चूत को ज़ोर-ज़ोर से सहलाने लगता है और जब वह रुक जाती है तो राज गच से अपनी दो उंगलिया उसकी चूत के छेद में पेल देता है राज अपनी मम्मी की चूत को सहलाते हुए उसके पास सरक कर उसके रसीले होंठो को चूस्ते हुए अपनी मम्मी की चूत को मसल्ने लगता है,

राज - मम्मी क्या हुआ मुतो ना

रजनी- बस बेटे अब नही आ रहा है

राज - अच्छा कोई बात नही और अपनी दो उंगलिया अपनी मम्मी की फटी हुई चूत में पेलते हुए उसके एक दूध को कस कर मसल्ते हुए उसके रस भरे होंठो का रस पीने लगता है, रजनी बहुत चुदासी हो जाती है और बैठे-बैठे ही अपनी गान्ड मटकाने लगती है, फिर राज उसको खड़ी करके अपनी मम्मी के फूले हुए भोस्डे को अपने हाथो में भर कर कस कर दबोचने लगता है और रजनी अपने बेटे का खड़ा लंड अपने हाथो में कस कर दबाने लगती है

राज - मम्मी क्या फूली हुई चूत है तुम्हारी

रजनी- अपने बेटे का लंड मसल्ते हुए, तेरा लंड भी तो कितना बड़ा और मोटा है, मेरी तो चूत और गान्ड मस्त हो गई है तेरे मोटे लंड से चुद-चुद कर

राज - चलो अब मुझे अपनी चूत पिलाओगी ना

रजनी- चलते हुए हाँ बेटे आज में तुझे अपनी पूरी चूत खोल कर तेरे मुँह में भर दूँगी राज उसके साथ चलता हुआ उसकी गान्ड को दबोचते जा रहा था उसके बाद राज सीधा जा कर लेट जाता है और रजनी उसके उपर दोनो टाँगे फैला कर अपनी फूली हुई चूत को सीधे उसके मुँह पर दे देती है और राज अपने हाथो से अपनी मम्मी की चूत को फैला-फैला कर कस-कस कर चाटने लगता है, रजनी पागलो की तरह सीसियाते हुए अपनी चूत अपने बेटे के मुँह में मारने लगती है, राज अपनी मम्मी की चूत से बहते हुए रस को खूब कस-कस कर चूस्ता है और उसकी मम्मी की चूत पूरी लाल हो जाती है, और वह अपनी फूली हुई चूत अपने बेटे के मुँह से दबाती हुई

रजनी- राज अब मुझसे नही रहा जाता है अब अपनी मम्मी की चूत खूब कस-कस कर अपने मोटे लंड से मार दे बेटा

राज - अपनी मम्मी की बात सुन कर एक बार कस कर उसकी पूरी चूत को अपने मुँह में भर कर चूसने लगता है और फिर रजनी से बर्दास्त नही होता है और वह साइड में लुढ़क जाती है, और राज अपनी मम्मी के मोटे-मोटे दूध को अपने मुँह में भर कर खूब ज़ोर-ज़ोर से उसके निप्पल से दूध पीने लगता है रजनी उसे अपने उपर चढ़ा लेती है और उसका मोटा लंड पकड़ कर अपनी चूत से जैसे ही लगाती है राज कस के एक तगड़ा धक्का अपनी मम्मी की फूली हुई चूत में मार देता है और उसका पूरा लंड एक ही बार में अपनी माँ के भोस्डे में उसकी बच्चेदानी तक समा जाता है और जब राज अपनी मम्मी को कस-कस कर ठोकने लगता है तो उसका हर धक्का अपनी मम्मी की बच्चेदानी से लगता है और उसके लंड की ऐसी मस्त ठुकाई से रजनी की चूत में पानी ही पानी भर जाता है और वह पागलो की तरह चिल्लाते हुए आह बेटे खूब कस कर मार फाड़ दे अपनी मम्मी की पूरी चूत को आह आह और ठोंक और कस कर चोद बेटे और रजनी अपनी दोनो जाँघो को उठाकर अपने पैर को अपने बेटे की कमर से बाँध लेती है और राज अपने दोनो हाथो को अपनी मम्मी की मोटी गदराई गान्ड के नीचे लेजकर उसकी पूरी गान्ड को दबोच कर उपर उठा लेता है और फिर खूब कस-कस कर अपनी मम्मी की चूत ठोकने लगता है,
-  - 
Reply
08-16-2019, 12:19 PM,
#47
RE: Parivaar Mai Chudai घर के रसीले आम मेरे नाम
रजनी आह आह करती हुई अपनी मस्तानी चूत को अपने बेटे के मोटे लंड पर कस-कस कर मारने लगती है और उसकी चूत का दाना फड़फडाने लगता है, वह राज को अपने सीने से कस कर दबा लेती है और राज अपनी मम्मी के रसीले होंठो को चूस्ता हुआ उसके गदराए जिस्म को दबोचे हुए उसकी चूत मार-मार कब लाल कर देता है,

उसका लंड उसकी मम्मी की फूली हुई चूत में बहुत तेज़ी से सतसट अंदर बाहर होने लगता है और रजनी पागलो की तरह राज के होंठो को चुस्ती हुई अपनी फूली हुई चूत को खूब कस कर राज के लंड से दबोच लेती है और राज को लगता है कि उसकी मम्मी अब पानी छोड़ने वाली है तब राज अपनी मम्मी के होंठो को अपने मुँह में भर कर चूस्ते हुए उसकी मोटी गान्ड को कस कर अपने लंड की ओर दबा कर सतसट 8-10 तगड़े धक्के अपनी मम्मी की चूत की गहराई में बच्चेदानी तक अपने लंड की तगड़ी ठोकर मार-मार कर एक दम से अपने मोटे लंड को अपनी मम्मी की फूली हुई चूत से कस कर चिपका देता है और उसकी चूत की गहराई में रुक-रुक कर पिचकारी छोड़ने लगता है और रजनी हाँफती हुई उसे चूमने लगती है और कुछ देर तक दोनो का पानी एक साथ एक दूसरे के लंड और चूत को भिगोता रहता है, करीब 2 मिनट तक राज अपनी मम्मी की फूली हुई चूत से चिपका रहता है और फिर कुछ देर बाद दोनो अलग-अलग होकर गहरी साँसे लेते हुए पड़े रहते है,

कुछ देर बाद उनके बदन में ठंडक महसूस होने लगती है और राज अपनी मम्मी से फिर से चिपक कर उसके होंठो को चूसने लगता है और रजनी उसे अपने मोटे-मोटे दूध से लगा कर दबोच लेती है,

राज - मम्मी मज़ा आया या नही

रजनी-मुस्कुराते हुए बेटे आज तूने अपनी मम्मी की चूत मार-मार कर पूरी लाल कर दी है, सच आज तो बहुत मस्त मज़ा आया, तूने तो अपनी मम्मी की चूत मार-मार कर उसे फिर से जवान घोड़ी बना दिया है, अब तो में रोज तेरे साथ पूरी नंगी होकर ही सोउंगी,

राज - क्यो नही मम्मी अब में भी तुम्हे चोदे बिना नही रह सकता हूँ, इस तरह राज अब रोज रात को कभी अपनी बहन और कभी अपनी मम्मी को चोदने लगा और हफ्ते में एक दो बार कोमल की चूत भी मार देता था उधर कोमल भी अपने पापा के लंड से लगभग रोज अपनी चूत मराने लगी थी

तो दोस्तो इस तरह राज इन तीनो घोड़ियों के मस्ती करते हुए अपनी लाइफ को एंजाय कर रहा है
अब हमे क्या करने दो उसकी जिंदगी है वो जाने हम सब तो अब किसी नये सफ़र पर चलने की तैयारी करेंगे

दोस्तो राजशर्मास्टॉरीज पर ये थी इस साल के शुरुआत की मस्त कहानी आगे का सफ़र कहाँ का होगा ये तो नही पता पर इतना पता है कि जहाँ भी होंगे आप सब मेरे साथ रहेंगे इसी के साथ दोस्तो इस कहानी को अलविदा
*****दा एंड*****
-  - 
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Thumbs Up Indian Sex Kahani चुदाई का ज्ञान 119 39,835 02-19-2020, 01:59 PM
Last Post:
Star Kamukta Kahani अहसान 61 210,638 02-15-2020, 07:49 PM
Last Post:
Thumbs Up bahan sex kahani बहना का ख्याल मैं रखूँगा 82 84,747 02-15-2020, 12:59 PM
Last Post:
  mastram kahani प्यार - ( गम या खुशी ) 60 138,212 02-15-2020, 12:08 PM
Last Post:
Star Adult kahani पाप पुण्य 220 934,152 02-13-2020, 05:49 PM
Last Post:
Lightbulb Maa Sex Kahani माँ की अधूरी इच्छा 228 751,515 02-09-2020, 11:42 PM
Last Post:
Thumbs Up Bhabhi ki Chudai लाड़ला देवर पार्ट -2 146 81,928 02-06-2020, 12:22 PM
Last Post:
Star Antarvasna kahani अनौखा समागम अनोखा प्यार 101 204,644 02-04-2020, 07:20 PM
Last Post:
Lightbulb kamukta जंगल की देवी या खूबसूरत डकैत 56 26,473 02-04-2020, 12:28 PM
Last Post:
Thumbs Up Hindi Porn Story द मैजिक मिरर 88 101,121 02-03-2020, 12:58 AM
Last Post:



Users browsing this thread: 2 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


Soya ledij ke Chupke Se Dekhne Wala sexभैया का लिंग sexbabaactress nude naked photo sex baba meri bivi bani pron satr chay chodai ger mard seBade white boobs ko dabane vala xxx video 1minit kaHindisex storisebabxxx kahania familywww.maa beti beta or kirayedar sex baba netNaggi chitr sexbaba xxx kahani.netsexybur jhaat massageboyfriend sath printing flowers vali panty pehan kar sex kiyajab bardast xxxxxxxxx hd vediosadha actress fakes saree sex babaporn बहोत पैसे वाली महीला की गांड़ मारीMami aur bhanja ki chudai Kachi utaar ke nangi Karke film blue filmandhe baba se chudayi ki Hindi sex storyकहानीमोशीmanisha yadav nude.sexbaba.comma sa gand ke malash xxx kahani comTight jinsh gathili body mai gay zim traner kai sath xxxnokara ko de jos me choga xxx videozim traner sex vedeo in girlसख्खी मोठी बहीण झवली मराठी सेक्स कथाnude tv kannda atress faeksexbaba nude wife fake gfs picsChudwate samay ladki ka jor se kamar uthana aur padane ka hd video XXX videos.comchodachodi Shari walexxx video HDpoti ko baba ne choda sex storyx-ossip sasur kameena aur bahu nagina hindi sex kahaniyanAuntu ko nangi dekhakiNushrat barucha nangi chute imageTara Sutaria & Ananya Panday pusi pic sexmu me dekar cudaisex video hd bhabhiBollywood all actress naked gifs image sounds xxx of tmkoc sex baba netShobha Shetty nude sexbabahorny bhosda vade vade mummerajeethni saxi vidyoरांड झवलो Bollywood actress xxx sex baba page 91मला जोरात झवलsexe swami ji ki rakhail bani chudai kahanibete ki haveli me pariwar walo ki pyar ki bochar ki sextai ne saabun lagayaWww Indian swara bhaskar nude ass hole images. Com ComAthiya Shetty sex baba.commere urojo ki ghati hindi sex storyAliabhatt nude south indian actress page 8 sex babaChachi ko abhana bna kar choda antarvasnacigrate pilakar ki chudai sex story hindibaniya ki thadi ladki sexyIndian sex kahani 3 rakhaildidi ki chudaeuhuma qureshi xxxcomaa beta chudai threadsमाँ के होंठ चूमने चुदाई बेटा printthread.php site:mupsaharovo.rudehat me sex baba chudai ki khani hindi meडाकटर ने चडि खोल कर चोदिwww.bollyfakeschut or lika ke video TVxxxdivyanka tripathi new 2019Sex story Ghaliya de or choot fadixxxxnxxxx photo motta momanagi kr k papa prso gi desi khaniकच्ची कली को बाबा न मूत का प्रसाद पिलाया कामुकताSubhangi atre and somya tondon fucking and nude picsSonarika.bhadoria.ki.nudesexvideo.comdakhi dakhi dakhaoo xxx choda chudichutad ka zamana sexbabanidhi bhanshuli aka boobs xporn-2019chod chod. ka lalkardeKahani didi bur daigan se chodti hhindi stories 34sexbabamaa beta chut ka bhosda bama sadi ki sex storysexbaba mama ki beti